CSK vs DC: सीएसके को मिली दूसरी मात, इन कारणों से हारी धोनी की सेना

0
17


दुबई: आईपीएल के संस्करण 13 (IPL 13) में चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK) की लगातार हार का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. शुक्रवार को हुए आईपीएल 2020 के 7वें मैच में दिल्ली कैपिटल्स (DC) ने सीएसके की टीम 44 रनों से पटखनी दे दी है. इस हार के साथ ही महेंद्र सिंह धोनी की सेना अंक तालिका में पांचवे पायदान पर आ गई है. इस बीच हम आपको बताने जा रहे हैं, दिल्ली के खिलाफ चेन्नई की हार के 5 बड़े कारण. 

टॉस का निर्णय हुआ गलत साबित

आईपीएल 2020 (IPL 2020) के दौरान अब तक हुए सभी मुकाबलों में टॉस जीतने वाली टीम ने पहले गेंदबाजी की है. इसी सिलसिले को जारी रखते हुए सीएसके के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने एक बार फिर से टॉस जीतकर पहले बॉलिंग करने का निर्णय लिया. लेकिन माही का यह दांव उल्टा पड़ गया, क्योंकि दिल्ली कैपिटल्स के सलामी बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 94 रन जोड़कर सीएसके को बैकफुट पर ला दिया.

पृथ्वी शॉ को पहले ओवर में दिया जीवनदान

गौरतलब है कि चेन्नई सुपरकिंग्स से सबसे बड़ी गलती तब हुई, जब दिल्ली कैपिटल्स के ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) पहले ओवर में आउट हो गए थे, लेकिन धोनी और उनकी टीम के किसी भी खिलाड़ी ने कोई अपील नहीं की, जिसकी वजह से मैदानी अंपायर ने अपना फैसला नहीं सुनाया. जबकि टीवी रिप्ले में ये साफ दिख रहा था कि दीपक चाहर (Deepak Chahar) की गेंद शॉ के बल्ले का किनारा लेकर माही के दस्तानों में गई थी. बाद में पृथ्वी ने 64 रनों की तूफानी पारी खेली.

यह भी पढ़ें: IPL 2020 CSK vs DC : LIVE मैच में धोनी से कैसे हुई इतनी बड़ी गलती?

सलामी जोड़ी सीएसके के लिए बनी सिरदर्द

इस टूर्नामेंट के पिछले 3 मुकाबलों में सीएसके के लिए मुरली विजय (Murali Vijay) और शेन वॉटसन (Shane Watson) की ओपनिंग जोड़ी बड़ी समस्या बनी हुई है. यह तीसरा मुकाबला है, जब चेन्नई के इन दोनों ओपनर्स ने टीम को कुछ खास अच्छी शुरुआत नहीं दी . जिसके कारण एक बार फिर से सीएसके टीम लक्ष्य का पीछा करते हुए चूक गई. 

बीच के ओवर में रनगति में नहीं हुआ सुधार

टी20 क्रिकेट फॉर्मेट में बीच ओवरों का महत्व काफी अधिक रहता है और जब आपकी टीम 176 रनों के बड़े टारगेट का पीछा कर रही होती है, तो रन गति में सुधार और तेजी की जरूरत रहती है. लेकिन दिल्ली के सामने चेन्नई (Chennai Super Kings) की टीम यह करने मे नाकाम रही और मैच के दौरान बीच के ओवरों में रन ऑफ बॉल के हिसाब से रन बनाती रही. आलम यह रहा कि अंत में सीएसके 20 ओवर में 131-7 रनों का स्कोर ही बना सकी. 

मध्यक्रम का लचर प्रदर्शन जारी

चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम में सुरेश रैना (Suresh Raina) और अंबाती रायडू की कमी साफ दिख रही है. टीम के मिडिल ऑर्डर के बल्लेबाज केधार जाधव, ऋतुराज गायकवाड और महेंद्र सिंह धोनी अपने बल्ले से अधिक छाप नहीं छोड़ पा रहे हैं. यही कारण है जो टीम दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ टारगेट को चेज करते वक्त चेन्नई की टीम सफलता हासिल नहीं कर सकी. 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here