IPL 2020: रैना और हरभजन को झटका, कांट्रेक्ट खत्म कर रही है CSK

0
10


दुबई. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में सबसे बेहतरीन रिकॉर्ड रखने वाली चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) टीम के लिए 13वें सीजन के लिए यूएई पहुंचने के बाद से ही सबकुछ बहुत अच्छा नहीं चल रहा है. पहले उसे खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव होने से जूझना पड़ा तो फिर अपने दो दिग्गज क्रिकेटर्स सुरेश रैना (Suresh Raina) और हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) को विवादित हालात में खोना पड़ा. उसके बाद टीम मैचों में भी कोई खास प्रदर्शन नहीं कर पाई है.

यह भी पढ़ें-क्रिकेट से था महात्मा गांधी करीबी नाता, जानिए ये 5 अहम कनेक्शन

अब एक और विवाद खड़ा होने जा रहा है. कुछ रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि चेन्नई ने रैना और हरभजन के सीजन की शुरुआत में छोड़कर जाने के कारण दोनों क्रिकेटर्स के साथ हमेशा के लिए नाता तोड़ने का फैसला कर लिया है यानी टीम प्रबंधन दोनों के कांट्रेक्ट को खत्म करने जा रहा है. 

अपनी वेबसाइट से हटा दिया है दोनों का नाम
रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दोनों दिग्गज क्रिकेटर्स का नाम उनकी आईपीएल फ्रेंचाइजी ने न केवल अपनी ऑफिशियल वेबसाइट से हटा दिया है बल्कि नियमों के हिसाब से दोनों का कांट्रेक्ट खत्म करने की प्रक्रिया भी चालू कर दी गई है. आईपीएल नीलामी की गाइडलाइंस के हिसाब से 2018 सीजन से पहले हरभजन और रैना के साथ सीएसके ने 3 साल का कांट्रेक्ट साइन किया था. यह कांट्रेक्ट आईपीएल-2020 सीजन खत्म होने के साथ ही पूरा हो जाएगा. लेकिन दोनों क्रिकेटर्स ने फिलहाल चल रहे सीजन से अपना नाम वापस ले लिया है. इसके चलते सीएसके ने अपना कांट्रेक्ट ऑफिशियली बर्खास्त करने की प्रक्रिया चालू कर दी है.

रैना को 11 और भज्जी को दे रही थी 2 करोड़
आईपीएल नीलामी के बाद किए कांट्रेक्ट के लिहाज से सीएसके ने रैना के साथ 11 करोड़ रुपये प्रति सीजन और पूर्व भारतीय स्पिनर भज्जी के साथ 2 करोड़ रुपये प्रति सीजन की डील साइन की थी. सूत्रों के मुताबिक, इस सीजन से बाहर होने के चलते उन्हें टीम की तरफ से एक भी रुपया फीस के तौर पर नहीं दिया जाएगा. इनसाइड स्पोर्ट की रिपोर्ट में कहा गया है कि सीएसके के सीईओ कासी विश्वनाथन ने खिलाड़ियों का कांट्रेक्ट बर्खास्त किए जाने के मुद्दे से इनकार नहीं किया है. उन्होंने बहुत ज्यादा ब्यौरा नहीं देते हुए कहा कि खिलाड़ी केवल तभी वेतन पाते हैं, जब वे खेलते हैं, क्योंकि वे दोनों (भज्जी व रैना) नहीं खेल रहे हैं तो उन्हें वेतन नहीं दिया जाएगा.

अगले साल भी लीग से गायब होने का खतरा
सीएसके की तरफ से कांट्रेक्ट खत्म कर देने का मतलब है कि रैना और भज्जी को अब दोबारा आईपीएल नीलामी में उतरना होगा. यदि अगले सीजन के लिए कम समय देखते हुए बीसीसीआई (BCCI) की तरफ से नीलामी का आयोजन नहीं किया गया  तो सुरेश रैना और हरभजन सिंह को अगले आईपीएल सीजन में भी घर पर ही बैठकर खेल का मजा लेने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है, जो निश्चित तौर पर इन दोनों क्रिकेटर्स के साथ-साथ लीग के लिए भी करारा झटका होगा.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here