B’Day: राज कपूर हों या अमिताभ बच्चन, राजकुमार ने किसी के लिए भी नहीं बदले अपने तेवर

0
8


नई दिल्ली: ‘जॉनी…’ इतना कहना काफी है और लोग समझ जाते हैं कि किसकी बात हो रही है. उनकी परदे पर जब एंट्री होती थी, तो उनसे पहले कैमरे के फ्रेम में उनके सफेद जूते आते थे. हमेशा इस्तीफा अपनी जेब में रखकर घूमने वाले राजकुमार निजी जिंदगी में भी ऐसे ही थे, किसी को भी भाव नहीं देते थे, चाहे वो राज कपूर (Raj kapoor) हों या अमिताभ बच्चन. उनके जन्मदिन पर जानिए उनसे जुड़ी कुछ दिलचस्प कहानियां.

जब अमिताभ बच्चन पर किया था कमेंट
अमिताभ बच्चन से राजकुमार की बड़ी दिलचस्प कहानी जुड़ी है, कि कैसे राजकुमार ने अमिताभ बच्चन पर इतना बड़ा कमेंट किया था, और कोई कहता तो बिग बी पता नहीं क्या जवाब देते, लेकिन सामने राजकुमार थे, सो मुस्कराकर चुप रह गए. दरअसल बॉलीवुड की एक फिल्मी पार्टी में अमिताभ बच्चन और राजकुमार दोनों ही मौजूद थे. दोनों आपस में मिले भी और कई लोगों के बीच में दोनों पास पास खड़े हो गए. इसी बीच राजकुमार ने अमिताभ बच्चन के सूट की तारीफ कर दी, बच्चन काफी खुश हुए कि किसी ने तो नोटिस किया. लेकिन इससे पहले कि अमिताभ खुश होकर ये बताएं कि किस टेलर से सिलवाया है, तब तक राजकुमार ने अगला बयान दाग दिया.

खामोश रह गए थे ‘बिग बी’
उस बयान से अमिताभ बच्चन खामोश रह गए, उन्हें समझ नहीं आया कि क्या जवाब दें. राजकुमार का अगला बयान था- ‘दरअसल हमें अपने घर के परदे सिलाने थे जॉनी, ये कपड़ा काफी अच्छा लगा’. राजकुमार से बिग बी नाराज भी होते, लेकिन एक बड़ी खास वजह थी, जिसके चलते अमिताभ बच्चन ने जवाब देना मुनासिब नहीं समझा बल्कि मुस्कराकर रह गए. उसकी वजह थी ‘जंजीर’ वो मूवी जिसने अमिताभ को बॉलीवुड में ‘एंग्री यंग मैन’ बना दिया, फिल्मी दुनियां में एक ऐसी जगह दे दी, जहां पर वो सालों के लिए काबिज हो गए.

फिल्म ‘जंजीर’ हुई थी ऑफर
दरअसल ‘जंजीर’ मूवी अमिताभ बच्चन के लिए नहीं लिखी गई थी, उनकी किस्मत थी कि उस दौर के दो दो सुपरस्टार्स ने इस मूवी को किसी ना किसी वजह से मना कर दिया और अमिताभ की किस्मत चमक गई. दरअसल ये मूवी प्रकाश मेहरा ने देव आनंद के लिए लिखवाई थी, देव को रोमांटिक हीरो की इमेज से निकालकर एक एंग्री यंग मैन की छवि देने के लिए. देव साहब को ये स्क्रिप्ट काफी पसंद भी आई थी. तब उन्होंने बाकी कलाकारों के बारे में पूछा और ये भी पूछा कि गाने किस किस सिचुएशन में फिल्माए जाएंगे, और रोमांटिक गाने कितने हैं, क्या वो कम्पोज हो चुके हैं या अभी होने हैं. प्रकाश मेहरा का जवाब सुनकर वो वाकई में हैरान रह गए. प्रकाश मेहरा ने बताया कि इस फिल्म में ना तो कोई रोमांटिक गाना है और ना ही हीरो के हिस्से में कोई नाच गाना तो उन्हें बहुत ही अजीब लगा.

जब राजकुमार ने कर दी थी हदें पार
दरअसल देवआनंद की इमेज एक रोमांटिक हीरो की थी, बिना रोमांटिक गानों के वो उस दौर में अपनी फिल्म की कल्पना भी नहीं कर सकते थे और अपनी फिल्मों में देवआनंद का इतना ज्यादा दखल होता था कि लोग उन्हें उनकी फिल्मों का घोस्ट डायरेक्टर ही मानते थे. चूंकि फिल्म की कहानी उन्हें पसंद आई थी, इसलिए उन्होंने प्रकाश मेहरा से कहा भी कि यार एक रोमांटिक गाना तो डाल दो. लेकिन मेहरा राजी नहीं हुए तो देव साहब को लगा कि इससे उनकी रोमांटिक हीरो की इमेज खराब होगी, उन्होंने फिल्म करने से मना कर दिया. हालांकि मेहरा साहब उसके बाद राजकुमार के पास भी गए, राजकुमार ने ये कहकर मना कर दिया कि स्टोरी तो पसंद आई लेकिन आपकी शक्ल नहीं. ऐसे में फिल्म चली गई अमिताभ बच्चन के खाते में, हालांकि धर्मेन्द्र ने भी इस फिल्म के लिए मना कर दिया था और फिर जंजीर ने जो इतिहास रचा वो शायद देश के बच्चे बच्चे को पता है.

जब राज कपूर को दिखाए राजकुमार ने अपने तेवर
एक बार राज कपूर भिड़ गए थे राजकुमार से, मामला खासा दिलचस्प था. जब राज कपूर अपना ड्रीम प्रोजेक्ट ‘मेरा नाम जोकर’ बना रहे थे, तो उन्होंने कैमियो के लिए कई सितारों से बात की, जिसमें मनोज कुमार, धर्मेन्द्र, सिमी ग्रेवाल आदि तो थे ही राजकुमार भी थे. राजकुमार को उन्होंने सर्कस के एक जादूगर का रोल ऑफर किया. राजकुमार ने जवाब दिया कि ‘अगर मुझे अपनी फिल्म में लेना चाहते हो तो पहले अपने बराबर का कोई रोल मेरे लिए क्रिएट करो’. राज कपूर खून का घूंट पीकर रह गए. प्रेम चोपड़ा की बर्थडे पार्टी में दोनों फिर मिले, राज कपूर नशे में धुत्त थे, जब सामने बैठे मुस्कराते राजकुमार पर नजर पड़ी तो वो आपा खो बैठे और उन्हें ‘ब्लडी मर्डरर’ तक बोल डाला. दरअसल राजकुमार हीरो बनने से पहले पुलिस इंस्पेक्टर थे और उन पर एक मर्डर का इल्जाम भी था. राजकुमार उनसे ये कहकर निकल गए कि ‘मैं खूनी रेपिस्ट हो सकता हूं, लेकिन तुम्हारे पास नहीं आऊंगा, पहले फिल्म बनाना सीख लो’. जब शुरुआत में ‘मेरा नाम जोकर’ पिट गई, तो राजकुमार ने चुटकी भी ली थी, कि राज कपूर को फिल्म मेकिंग का कोर्स कर लेना चाहिए.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here