मल्लिका शेरावत ने 11 साल पहले किया था ट्वीट, जानिए कितनी सटीक रही भविष्यवाणी

0
5


नई दिल्‍ली: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव का चुनाव डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन जीत चुके हैं और उनके साथ हमारे मूल की बेटी कमला हैरिस ने भी इतिहास रचा है. भारतीय मूल की कमला हैरिस अमेरिका (Kamala Harris) की उपराष्ट्रपति (Vice President) के रूप में चुनी जाने वाली पहली महिला हैं. भारत में हैरिस की कामयाबी के बाद जबरदस्त जश्न मना. कमला हैरिस की ऐतिहासिक जीत के बाद हिंदुस्तान के हर तबके की प्रतिक्रिया और शुभकामनाओं का दौर देखने को मिला. खास तौर पर सेलेब्स अपने अंदाज में कमला हैरिस को बधाइयां दीं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि अभिनेत्री मल्लिका शेरावत (Mallika Sherawat) ने 11 साल पहले ही इस बात की घोषणा कर दी थी कि वो एक दिन अमेरिका के चुनावी मैदान में जीत हासिल करेंगी.

काफी सटीक निकला मल्लिका का ट्वीट
दरअसल, मल्लिका ने साल 2009 में एक ट्वीट में लिखा था कि वे एक दिन अमेरिकी राष्ट्रपति हो सकती हैं. उस वक्त कमला हैरिस (Kamala Harris) सैन फ्रांसिस्को (San Francisco) की जिला अटॉर्नी (District Attorney) थीं. एक्ट्रेस का 2009 का ट्वीट, जिसमें उन्होंने कमला हैरिस को एक दिन अमेरिकी राष्ट्रपति बनने की भविष्यवाणी की थी.

ये भी पढ़ें-US: जो बाइडेन जीत तो गए लेकिन ट्रंप ऐसे ही अड़े रहे तो क्या होगा?

2009 में कमला हैरिस से मिली थीं मल्लिका
2009 में मल्लिका शेरावत ने अपने ट्वीट में लिखा था, ”एक पार्टी में काफी मस्ती कर रही हूं जहां पर मेरे साथ एक ऐसी महिला बैठी हैं जिन्हें लेकर कहा जा रहा है कि वे अमेरिका की राष्ट्रपति बन सकती हैं.” 2020 में कमला हैरिस राष्ट्रपति तो नहीं लेकिन उप राष्ट्रपति जरूर बन गई हैं. ऐसे में मल्लिका का ये 11 साल पुराना ट्वीट इस समय वायरल हो रहा है. मल्लिका की ये बात काफी हद तक सच साबित हुई है. राष्ट्रपति न सही लेकिन उपराष्ट्रपति तो वे बन ही गईं हैं और अब सिर्फ शपथ लेना बाकी है.

भारतीय थीं हैरिस की मां
56 साल की हैरिस की मां भारत के तमिलनाडु राज्य के तिरुवर जिले थुलासेंद्रापुरम गांव की रहने वाली थीं. वहां पर इस वक्त जश्न का माहौल है. गांव में रंगोली बनाकर बधाई दी जा रही है. चुनाव जीतने के बाद उपराष्ट्रपति पद के लिए निर्वाचित कमला हैरिस ने कहा कि वे अपनी मां और उनकी पीढ़ी की महिलाओं के बारे में, अश्वेत महिलाओं, एशियन, व्हाइट, लैटिन, नैटिव अमेरिकन महिलाओं के बारे में सोच रही हैं, जिन्होंने अमेरिका के इतिहास में लगातार इस नतीजे के लिए संघर्ष किया था.

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here