B’Day Special: बोनी कपूर के प्रपोज करने पर क्यों गुस्सा हुईं थी श्रीदेवी? जानिए दिलचस्प किस्सा

0
6


नई दिल्ली: बोनी कपूर (Boney Kapoor) आज यानी 11 नवंबर को 65 साल के हो गए हैं. फिल्म निर्माता बोनी कपूर (Boney Kapoor) को नाम आते ही श्रीदेवी का नाम भी सामने आ जाता है. साउथ और बॉलीवुड की सुपर स्टार श्रीदेवी को कैसे उन्होंने पटाया और शादी के लिए तैयार किया, यह कहानी भी कम दिलचस्प नहीं. एक वक्त था जब बोनी कपूर अपनी पत्नी मोना कपूर, बेटे अर्जुन और बेटी अंशुला के साथ अपनी जिंदगी में खुश थे. यह अस्सी के दशक का समय था. बोनी कपूर एक उभरते हुए सफल युवा निर्माता थे. उन्हीं दिनों श्रीदेवी ने बॉलीवुड में हिम्मतवाला से दोबारा कदम रखा और देखते ही देखते एक नामी सितारा बन गईं.

श्रीदेवी के इन अदाओं के कायल हुए बोनी कपूर  
बोनी कपूर की ख्वाहिश थी श्रीदेवी के साथ एक फिल्म बनाने की. बोनी कपूर श्रीदेवी के डेट्स लेने चैन्नई पहुंचे. श्रीदेवी की मां उनके डेट्स देखा करती थी और पैसे भी वही तय करती थीं. श्रीदेवी से पहली बार उनके घर में मिले तो चौंक गए. वह सिंपल सी लड़की थी, स्टार नहीं. बिना दुपट्टे के सलवार कमीज में एक सकुचाई हुई कॉलेज गर्ल दिख रही थी. बोनी कपूर को वह इतनी अच्छी लगीं कि फौरन अपने भाई अनिल कपूर को फोन करके कहा कि मैं तुम्हें और श्रीदेवी को ले कर एक फिल्म बनाने जा रहा हूं, नाम है गोविंदा (उस समय तक एक्टर गोविंदा की बॉलीवुड में एंट्री नहीं हुई थी). फिल्म 1984 में बनने वाली थी. किसी वजह से यह फिल्म डिब्बाबंद हो गई. उन्हीं दिनों जावेद अख्तर बोनी कपूर को मिस्टर इंडिया की स्क्रिप्ट दे कर गए थे. बोनी को लगा कि जब श्रीदेवी के डेट्स उनके पास हैं ही तो उन्हें गोविंदा ना सही मिस्टर इंडिया बना लेनी चाहिए.

फैशन टिप्स देते थे
बोनी कपूर को लगता था कि पर्सनल जिंदगी में श्रीदेवी बहुत सादगी से रहती हैं. उन्होंने श्रीदेवी के लिए कुछ एथनिक सूट बनवाए और उन्हें देते हुए कहा कि आप एक बड़ी स्टार हैं और आपको पर्सनल लाइफ में भी ग्लैमरस लगना चाहिए. श्रीदेवी ने उनके सामने तो हां कहा, पर किया वही जो उनको सही लगता था. श्रीदेवी के इस स्वभाव पर बोनी फिदा हो गए. मिस्टर इंडिया बनते-बनते बोनी को अहसास हो गया था कि उनका दिल श्रीदेवी के लिए धड़कने लगा है. इसके बाद उन्होंने रूप की रानी चोरों का राजा फिल्म बनाने की घोषणा की. इस बीच इंट्रोवर्ट श्रीदेवी बोनी से खुल कर बात करने लगी. श्रीदेवी की मम्मी राजेश्वरी और पिता अयप्पन से भी बोनी के अच्छे संबंध हो गए.

प्रपोज करने पर श्रीदेवी ने किए था ऐसा रिएक्ट
उसी दौरान एक दिन रात को डिनर के बाद बोनी ने श्रीदेवी को प्रपोज कर दिया. श्रीदेवी यह सुन कर पहले गुस्सा हुईं, फिर रोने लगीं, रोते-रोते वो गाड़ी से उतर गईं. यह कहते हुए कि आपने एक खूबसूरत रिश्ते को खत्म कर दिया. इस घटना के बाद नौ महीने तक श्रीदेवी ने बोनी कपूर से बात नहीं की, फोन नहीं उठाया, पर श्रीदेवी की मां की तबीयत जिन दिनों खराब थी, बोनी ने बिना कहे उनकी बहुत मदद की. एक बार तो श्री की मां ने कह ही दिया कि मुझे श्री के लिए अपने जैसा एक लड़का दिलाओ. आखिरकार चार साल तक श्रीदेवी के पीछे पड़े रहने के बाद वो मान गई.

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here