Delhi Capitals के Kagiso Rabada को पसंद नहीं ये ‘जेल’, फिर भी हैं शुक्रगुजार

0
5


जोहानिसबर्ग: दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा (Kagiso Rabada) ने जैविक रूप से सुरक्षित बायो बबल (Bio Bubble) की तुलना ‘सभी सुविधाओं से युक्त जेल’ से की जिसमें वह संयुक्त अरब अमीरात में इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान रहे थे लेकिन साथ ही कहा कि वे कोविड-19 के माहौल में ‘फिर भी खुशकिस्मत’ हैं क्योंकि लाखों लोगों ने इस दौरान अपनी जीविका गंवा दी है.

यह भी पढ़ें- वेडिंग सीजन में Saina Nehwal का एथनिक लुक वायरल, देखिए PHOTOS

25 साल के तेज गेंदबाज ने दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलते हुए आईपीएल में सबसे ज्यादा 30 विकेट अपने नाम किए जो उपविजेता रही. अब वह एक और ‘बायो-बबल’ में एंट्री करने को तैयार हैं. टीम शुक्रवार से सफेद गेंद की सीरीज के लिए इंग्लैंड के दौरे पर है.

रबाडा ने सीरीज से पहले वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘ये काफी मुश्किल हो सकता है. आप बातचीत नहीं कर सकते. आप अपनी ही आजादी में खो जाते हो. यह लगभग सुविधाओं से भरपूर जेल (लग्जरी से युक्त जेल) की तरह है. लेकिन हमें खुद को याद दिलाना होता है कि हम भाग्यशाली हैं.’

दक्षिण अफ्रीका के इस गेंदबाज ने कहा, ‘लोगों ने अपनी नौकरी गंवा दी है, लोग इस वक्त जूझ रहे हैं इसलिए हमें कुछ पैसा बनाने के लिए दिए गए मौके और जो हम करते हैं, वो करने के प्रति शुक्रगुजार होना चाहिए.’
(इनपुट-भाषा)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here