IND vs AUS: Melbourne में भारत और ऑस्ट्रेलिया ने एक दूसरे के खिलाफ खेला 100वां टेस्ट

0
5


मेलबर्न: ऐतिहासिक मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (MCG) भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 100वें टेस्ट मैच का गवाह बना.  आज का बाक्सिंग डे टेस्ट (Boxing Day Test) इन दोनों टीमों के बीच के क्रिकेट रिश्तों के लिहाज से एक बहुत बड़ा मील का पत्थर है.

कंगारुओं का दबदबा

आज बेशक भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच क्रिकेट के मैदान पर जबरदस्त प्रतिस्पर्धा होती है लेकिन इतिहास इस बात का गवाह है कि ऑस्ट्रेलिया ने दुनिया की बाकी अन्य टीमों के साथ-साथ भारत के खिलाफ भी हमेशा से अपना वर्चस्व कायम रखा है.

क्या कहते हैं आकड़े?

आंकड़े इस बात के गवाह हैं. अब तक खेल गए 99 टेस्ट मैचों में ऑस्ट्रेलिया (Australia) ने 43 मैच जीते हैं जबकि 28 में भारत (India) की जीत हुई है. एक मैच टाई रहा है और 27 मुकाबले ड्रॉ रहे हैं.

पहली टक्कर

दोनों टीमों के बीच टेस्ट क्रिकेट की शुरुआत 1947 में भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलिया दौरे (India tour of Australia) के साथ हुई थी. 5 मैचों की उस सीरीज को मेजबान टीम ने 4-0 से जीता था. वो सीरीज 17 अक्टूबर 1947 को शुरू होकर 20 फरवरी 1948 में खत्म हुई थी.

पहले कप्तान

स्वतंत्र भारत की टीम पहली बार किसी विदेशी दौरे पर गई थी और इस टीम की कमान लाला अमरनाथ (Lala Amarnath) के हाथों में थी. दूसरी ओर, मेजबान टीम के कप्तान थे, दुनिया के महानतम बल्लेबाज माने जाने वाले सर डॉन ब्रैडमैन (Don Bradman).

ब्रैडमैन का कमाल

उस सीरीज में ब्रैडमैन ने 715 रन बनाए थे जबकि भारत की ओर से विजय हजारे (Vijay Hazare) ने सबसे ज्यादा 429 रन जुटाए थे. गेंदबाजी की बात करें तो रे लिंडवाल ने मेजबानों के लिए सबसे अधिक 18 और लाला अमरनाथ ने भारत के लिए 13 विकेट लिए थे.

AUS का पहला भारत दौरा

साल 1956-57 में ऑस्ट्रेलिया ने पहली बार भारत का दौरा किया था. दोनों टीमों के बीच 3 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली गई, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने 2-0 से जीता.

फिर भारत आई ऑस्ट्रेलिया

1959-60 में ऑस्ट्रेलियाई टीम एक बार फिर भारत दौरे पर आई और 5 मैचों की एक सीरीज में हिस्सा लिया. यह सीरीज भारत ने 2-1 से अपने नाम किया. उसके बाद कंगारू 1964-65 में एक बार फिर भारत आए और 3 मैचों की सीरीज खेली, जो 1-1 से ड्रा रही.

गावस्कर का दौर

साल 1979-80 भारत के लिए बेहद खास था क्योंकि इस साल भारत ने महान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) की कप्तानी में अपने घर में खेलते हुए 6 मैचों की सीरीज में 2-0 से जीत हासिल की. ये कंगारूओं के खिलाफ भारत की पहली सीरीज जीत थी.

सीरीज को दिया गया नाम

1996-97 से इन दोनों देशों के बीच होने वाली टेस्ट सीरीज को ‘बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी’ (Border-Gavaskar Trophy) का नाम दे दिया गया. सुनील गावस्कर और एलन बॉर्डर (Allan Border) दोनों टीमों के महान खिलाड़ी और कप्तान रहे हैं.

AUS में ‘विराट’ कामयाबी

साल 2018-19 में जब भारत ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर गई, तब विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 4 मैचों की सीरीज में 2-1 से मात दी. ये भारतीय क्रिकेट टीम की ऑस्ट्रेलिया की धरती पर पहली और इकलौती सीरीज में फतह है.
(इनपुट-आईएएनएस)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here