Arnold Schwarzenegger ने दिया ऐसा बयान, सुनकर नाराज हो सकते हैं Donald Trump

0
13


नई दिल्ली: हॉलीवुड स्टार अर्नोल्ड श्वार्जनेगर (Arnold Schwarzenegger) ने अमेरिका में कैपिटल हिल पर हुए हमले की निंदा की है और डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को अब तक का सबसे खराब राष्ट्रपति कहा है. कैलिफोर्निया के पूर्व गवर्नर ने कैपिटल हिल पर हमला करने वाली भीड़ की तुलना नाजियों से भी की. सात मिनट के वीडियो में, जिसे श्वार्जनेगर के ट्विटर अकाउंट पर रविवार रात पोस्ट किया गया था, अभिनेता ने इस घटना की तुलना 1938 के क्रिस्तालनाट से की.

अर्नोल्ड श्वार्जनेगर (Arnold Schwarzenegger) ने कहा, ‘ इस देश में एक अप्रवासी के रूप में, मैं अपने साथी अमेरिकियों और दुनिया भर के हमारे दोस्तों के लिए हाल के दिनों की घटनाओं के बारे में कुछ शब्द कहना चाहूंगा. मैं ऑस्ट्रिया में पला-बढ़ा.’

श्वार्जनेगर ने कहा कि मैं क्रिस्तालनाट या ब्रोकन ग्लास से बहुत परिचित हूं. यह 1938 में नाजियों द्वारा यहूदियों के खिलाफ बरपाई गई कहर की रात थी. बुधवार को ब्रोकन ग्लास यहां अमेरिका में देखने को मिला. लेकिन भीड़ ने न सिर्फ कैपिटल की खिड़कियों को चकनाचूर कर दिया, बिल्क हमारे विचारों को भी चकनाचूर कर दिया.

अभिनेता ने कहा, ‘उन्होंने न केवल अमेरिकी लोकतंत्र को बनाए रखने वाली इमारत के दरवाजे ही नहीं तोड़े, बल्कि उन सिद्धांतों को रौंद दिया, जिन पर हमारे देश की नींव पड़ी.’

श्वार्जनेगर ने कहा, ‘मैं द्वितीय विश्व युद्ध के दो साल बाद 1947 में पैदा हुआ था. मैं बड़ा होकर, उन लोगों से घिरा हुआ था जो इतिहास में सबसे बुरे शासन में अपनी भागीदारी पर खुद को अपराधी महसूस कर टूट से चुके थे.’

श्वार्जनेगर ने कहा, ‘मैंने इसे कभी भी सार्वजनिक रूप से साझा नहीं किया क्योंकि यह एक दर्दनाक स्मृति है. लेकिन मेरे पिता सप्ताह में एक या दो बार घर आते थे और वह चिल्लाकर हमें पीटते थे और मेरी मां डर जाती थीं.’

‘टर्मिनेटर’ स्टार ने कहा, ‘मैंने उन्हें इसके लिए पूरी तरह से जिम्मेदार नहीं माना, क्योंकि हमारा पड़ोसी भी परिवार के साथ ऐसा ही कर रहा था, और उसका अगला पड़ोसी भी ऐसा ही करता था. मैंने इसे अपने कानों से सुना और अपनी आंखों से देखा.’

उन्होंने याद किया कि कैसे युद्ध की दर्दनाक यादों से उनके पिता और पड़ोसी जूझ रहे थे.

उन्होंने कहा कि यह सब झूठ और असहिष्णुता के साथ शुरू हुआ. यूरोप से होने के नाते मैंने पहली बार देखा कि चीजें कैसे नियंत्रण से बाहर हो सकती हैं.

शवार्जनेगर ने कहा, ‘राष्ट्रपति ट्रंप ने एक निष्पक्ष चुनाव के परिणामों को पलटने की मांग की. उन्होंने झूठ बोलकर लोगों को गुमराह करके तख्तापलट करना चाहा. मेरे पिता और हमारे पड़ोसियों को भी झूठ के साथ गुमराह किया गया था और मुझे पता है कि इस तरह के झूठ कहां लेकर जाते हैं.’

उन्होंने कहा, ‘राष्ट्रपति ट्रंप एक विफल नेता हैं. वह इतिहास में अब तक के सबसे खराब राष्ट्रपति के रूप जाने जाएंगे. अच्छी बात यह है कि वह जल्द ही एक पुराने ट्वीट की तरह अप्रासंगिक हो जाएंगे.’

अभिनेता ने कहा कि जो ड्रामा हुआ उससे अब हमें उबरने की जरूरत है. हमें न सिर्फ एक रिपब्लिकन या डेमोक्रेट्स के रूप में बल्कि एक अमेरिकी के रूप में इन सबसे उबरने की जरूरत है.

उन्होंने वीडियो का अंत नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन को शुभकामनाएं देते हुए की.

श्वार्जनेगर ने कहा, ‘नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बाइडेन जो लोग हमारे लोकतंत्र को नुकसान पहुंचा सकते हैं, उनसे इसकी रक्षा के लिए हम आज, कल और हमेशा आपके साथ खड़े रहेंगे.’

एंटरटेनमेंट की और खबरें पढ़ें





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here