BMC ने Sonu Sood को बताया Habitual Offender, हाईकोर्ट में कही ये बात

0
9


नई दिल्ली : बीएमसी (BMC) यानी बृह्नमुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन ने फिल्म अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood) को आदतन अपराधी (Habitual Offender) बताया है. बीएमसी ने बॉम्बे हाईकोर्ट में एफिडेविट दाखिल करके यह बात कही है. बता दें कि सोनू और उनकी पत्नी सोनाली सूद पर मुंबई के जुहू स्थिति शक्ति सागर बिल्डिंग में बीएमसी की इजाजत के बिना अवैध निर्माण करवाने का आरोप है.

बीएमसी (BMC) यानी बृह्नमुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन ने फिल्म अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood) को आदतन अपराधी (Habitual Offender) बताया है. बीएमसी ने बॉम्बे हाईकोर्ट में एफिडेविट दाखिल करके यह बात कही है. बता दें कि सोनू और उनकी पत्नी सोनाली सूद पर मुंबई के जुहू स्थिति शक्ति सागर बिल्डिंग में बीएमसी की इजाजत के बिना अवैध निर्माण करवाने का आरोप है.

अनधिकृत निर्माण को लेकर सोनू सूद (Sonu Sood) और उनकी पत्नी के खिलाफ शिकायत दर्ज है. इस शिकायत के खिलाफ सोनू सूद ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी, जिसके जवाब में बीएमसी (BMC) ने एफिडेविट दाखिल कर सोनू को आदतन अपराधी (Habitual Offender) बताया है और कहा कि वो अनिधिकृत निर्माण का व्यावसायिक इस्तेमाल करना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें : क्यों आए Parineeti Chopra की आंखों में आंसू, जानिए क्या है माजरा?

सोनू ने अवैध रूप से बनाया होटल

इस एफिडेविट में सोनू सूद पर गिराए जा चुके अवैध निर्माण को फिर से बनाने का भी आरोप लगाया गया है. इसमें कहा गया है कि वे इसे दोबारा बनाकर गैरकानूनी तरीके से होटल अलबेट के रूप में इस्तेमाल करना चाहते हैं और वह भी बिना इजाजत के. बीएमसी ने सोनू सूद (Sonu Sood) पर आरोप लगाया है कि वो पहले से मंजूर बिल्डिंग प्लान से अलग इस निर्माण को बचाकर व्यावसायिक इस्तेमाल करना चाहते हैं.

बीएमसी (BMC) के एफिडेविट में कहा गया है कि सोनू सूद (Sonu Sood) को रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी के कॉमर्शियल इस्तेमाल की इजाजत नहीं मिली है. इसमें कहा गया है कि सोनू सूद के पास वहां पर व्यावसायिक गतिविधि (होटल) चलाने का लाइसेंस नहीं है. सोनू ने बिल्डिंग को अनधिकृत रूप से मोडिफाई किया है और वहां पर बिना लाइसेंस के होटल चला रहे हैं.

ये भी पढ़ें : The Family Man 2 Teaser: फिर Manoj Bajpayee करेंगे कमाल, धमाकेदार होगी सीरीज

बोले सोनू – कॉमर्शियल इस्तेमाल की इजाजत ली

दूसरी तरफ, सोनू ने बीएमसी की तरफ से फाइल की गई शिकायत का जवाब देते हुए कहा, ‘मैं पहले ही बीएमसी से कॉमर्शियल इस्तेमाल की इजाजत ले चुका हूं. यह महाराष्ट्र कोस्टल जोन मैनेजमेंट एथॉरिटी को अप्रूव करना है और कोविड-19 की वजह से परमिशन समय पर नहीं आ पायी. किसी तरह की कोई अनियमितता नहीं बरती गई है. मैं हमेशा ही कानून का पालन करता हूं. इस होटल का इस्तेमाल कोविड-19 पैंडेमिक के दौरान कोरोना वॉरियर्स के रहने के लिए किया गया.’

ये भी पढ़ें : Master Movie को मिली बंपर ओपनिंग, टिकट के लिए करना पड़ सकता है लंबा इंतजार

यही नहीं सोनू सूद (Sonu Sood) ने कहा कि अगर उन्हें इजाजत नहीं मिलती है तो वे इसे फिर से रेजिडेंशियल स्ट्रक्चर में बदल देंगे. उन्होंने कहा, मैं बॉम्बे हाईकोर्ट में दी गई शिकायत के खिलाफ अपील कर रहा हूं.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here